(रजिस्ट्रेशन) MP Viklang Pension Yojana 2020

मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन | MP Viklang Pension Yojana 2020 Application Form | विकलांग पेंशन योजना मध्य प्रदेश | Madhya Pradesh Hendicap Pension Scheme in Hindi

देश की एक सरकार ने पहली बार विकलांगो के लिए सोचा है। MP सरकार ने प्रदेश के विकलांगों के लिए एक विकलांग पेंशन स्कीम मध्य प्रदेश लेकर आई है, जिसका नाम MP Viklang Pension Yojana 2020 है।

यह पेंशन योजना विकलांगों को आर्थिक मदद मुहैया करवाएगी। खासकर ऐसे विकलांग जो किसी भी तरीके का काम करके अपना जीवनयापन करने में पूरी तरह से अक्षम है।

MP विकलांग पेंशन योजना निश्चित तौर पर प्रदेश के विकलांगों के लिए बहुत ही राहत भरी योजना है। इस पूरी योजना का विवरण आगे है, कि कैसे इस योजना के लिए आवेदन फॉर्म भरना है।

ऐसे कौन कौन से मापदंड हैं जिनके आधार पर यह तय किया जाएगा कि कोई व्यक्ति Mp Viklang Pension Yojana 2020 का लाभ लेने के लिए योग्य है यह सभी जानकारी आपको विस्तार से बताई जाएगी

MP Viklang Pension Scheme 2020 Highlights

योजना का नाममध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना
इसके द्वारा लॉन्च की गयीमध्य प्रदेश सरकार
विभागसामाजिक सुरक्षा मध्य प्रदेश विभाग
लाभार्थीराज्य के विकलांग व्यक्ति
उद्देश्यराज्य के विकलांग लोगो को प्रतिमाह पेंशन प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://socialsecurity.mp.gov.in/

मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना क्या है? | What is MP Viklang Pension Yojana 2020

जैसा कि आपको ऊपर बताया कि मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना पूरी तरीके से उन व्यक्तियों को समर्पित है जो शारीरिक रूप से काम करने में सक्षम नहीं है।

यानी उनके शरीर में किसी ना किसी तरह की विकलांगता है ऐसे व्यक्तियों के जीवन यापन के लिए सरकार यह विशेष योजना लाई है।

इस योजना के अंतर्गत सरकार हर माह विकलांगों को ₹500 की आर्थिक मदद देगी। लेकिन इसके साथ यह शर्त भी जुड़ी है कि विकलांग व्यक्ति कम से कम 40% विकलांग होना चाहिए उसी स्थिति में उस व्यक्ति को विकलांग पेंशन योजना का लाभ मिल पाएगा.

MP Viklang Pension Yojana 2020 क्यों शुरू की गई है?

किसी के जीवन में सबसे बड़ी कमी क्या हो सकती है क्या वह पैसे की कमी है? ज्ञान की कमी है, या किसी और चीज की कमी है।

यदि हम अपने आसपास देखे तो हमें पता चलता है कि किसी के जीवन की सबसे बड़ी कमी उसकी शारीरिक अक्षमता है। यानी कि वह व्यक्ति शारीरिक रूप से बहुत सारे काम करने में सक्षम नहीं है।

जैसे कि वह व्यक्ति देख नहीं सकता, सुन नहीं सकता या बोल नहीं सकता है। हाथों का उपयोग काम करने के लिए नहीं कर सकता है या फिर वह व्यक्ति चल नहीं सकता है।

इस तरह की शारीरिक कमियों की वजह से एक व्यक्ति के जीवन में कितने सारे काम रुक सकते हैं इस बात का अंदाजा हम सबको है।

एक विकलांग व्यक्ति के जीवन में कई तरह की समस्याएं आती हैं जिसमें से सबसे बड़ी समस्या अपनी जरूरत पूरा करने के लिए पैसे कमाना है।

जैसा कि हम सब जानते हैं कि पैसे के बिना हम कुछ भी चीज खरीद नहीं सकते हैं यानी कि हमको अपनी जरूरत के सामान के लिए दूसरों पर निर्भर रहना पड़ेगा।

मध्यप्रदेश में जारी एक आंकड़े के मुताबिक यहां पर करीब 35000 लोगों के पास देखने की क्षमता नहीं है। 13000 से अधिक लोगों के पास सुनने की क्षमता नहीं है और 51000 से भी अधिक लोग हाथ पैर या किसी और अंग से विकलांग है।

जिसकी वजह से वह कोई भी काम करने में सक्षम नहीं है। ऐसे लोग जो विकलांग है और उनका परिवार आर्थिक रूप से इतना सक्षम है कि वह उन का भरण पोषण कर सकता है तो उन्हें किसी तरह की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ता है।

उनकी जिंदगी विकलांग के बावजूद भी ठीक चलती है। लेकिन असली दिक्कत गरीब तबके के लोगों को होती है।

यदि उनके परिवार में कमाने वाले मजदूरी करते हैं कि ऐसे में एक विकलांग व्यक्ति का भरण पोषण का कार्य उनके लिए एक बोझ के समान हो जाता है।

जिसकी वजह से विकलांग व्यक्ति का भरण पोषण सही तरह से नही हो पाता हैं। मध्य प्रदेश की सरकार ने इन्हीं सारी दिक्कतों को समझते हुए एक ऐसी योजना शुरू किया है जो पूरी तरह से विकलांगों के लिए है।

मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना के लिए जरूरी पात्रता | Essential eligibility for Madhya Pradesh Disabled Pension Scheme

हर सरकारी योजना की तरह ही इस योजना में भी कुछ मापदंड बनाए गए हैं जिनके आधार पर यह तय किया जाएगा कि किस व्यक्ति को Mp Viklang Pension Yojana का लाभ मिलेगा और किस व्यक्ति को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.

  • इस योजना का लाभ उसी व्यक्ति को मिलेगा जो व्यक्ति मध्यप्रदेश का मूल निवासी होगा।
  • विकलांग के परिवार के सभी लोगों की कुल आय ₹48000 प्रति वर्ष से ज्यादा नहीं होना चाहिए।
  • जो भी व्यक्ति विकलांग है उसके पास विकलांगता का एक सर्टिफिकेट जरूर होना चाहिए।
  • कोई विकलांग व्यक्ति यदि सरकारी नौकरी कर रहा है, तो उसको मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा।
  • जिन विकलांग व्यक्तियों के पास 3- 4पहिया वाले वाहन है उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा।
  • मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना के तहत तहत जो भी विकलांग व्यक्ति इस योजना का लाभ पाना चाहता है उसके पास बैंक अकाउंट होना बेहद जरूरी है। क्योंकि पेंशन का पैसा सीधे बैंक अकाउंट में ही आएगा और यह खाता आधार कार्ड से जरूर जुड़ा होना चाहिए।

Mp Viklang Pension Yojana 2020 के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents required for MP Viklang Pension Yojana 2020.

 मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना का यदि कोई व्यक्ति लाभ पाना चाहता है तो इसके लिए उस व्यक्ति के पास कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट होना चाहिए जो इस प्रकार है:-

  • आवेदक तक का आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र निवास प्रमाण पत्र
  • विकलांगता का सर्टिफिकेट
  • बैंक अकाउंट
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • और एक मोबाइल नंबर

मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना के लाभ | Benefits of Madhya Pradesh Handicap Pension Scheme in Hindi

 इस योजना के मुख्य लाभ कुछ इस प्रकार हैं:-

  • मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना का लाभ सिर्फ मध्य प्रदेश के विकलांग व्यक्तियों को मिलेगा। इस योजना के तहत हर विकलांग व्यक्ति के अकाउंट में ₹500 मासिक पेंशन राशि दी जाएगी।
  • ऐसे विकलांग व्यक्ति जिनका 40% तक शरीर विकलांग हो चुका है उनके लिए यह सहायता राशि निश्चित रूप से जीवन यापन में काफी सहायक होगी।
  • इस पेंशन के मिलने से अब विकलांग व्यक्ति किसी दूसरे के ऊपर निर्भर नहीं रहेंगे और अपना जरूरत खुद पूरी कर सकेंगे

मध्य प्रदेश विकलांग पेंशन योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया | How to apply for MP Viklang Pension Yojana 2020

विकलांग पेंशन योजना मध्य प्रदेश, विकलांगों के लिए शुरू की योजना है, जैसा कि ऊपर बताया यह है। इस योजना के आवेदन की प्रक्रिया सरकार ने बहुत ही आसान बनाई है।

इस योजना का यदि कोई व्यक्ति लाभ लेना चाहता हैं तो उसे आवेदन करने के लिए किसी ऑफिस में जाने की जरूरत नहीं है। बल्कि इसका आवेदन व्यक्ति इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन कर सकता है।

ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है:-

  • सबसे पहले आवेदक को सामाजिक सुरक्षा की आधिकारिक वेबसाइट https://socialsecurity.mp.gov.in/ पर जाना होगा जहां पर आप पेज ओपन करेंगे तो कुछ इस प्रकार का पेज दिखाई देगा।

mp-viklang-pension-yojana-2020

  • अब आपको सामाजिक सुरक्षा योजनाएं और आर्थिक सुरक्षा पेंशन के विकल्प को चुनना है इस विकल्प के चुनते ही आपके सामने कुछ आगे के पेज खुल जाएंगे यहां पर आपको पेंशन योजनाओं हेतु आवेदन करें विकल्प दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है इस पेज पर क्लिक करते ही आगे के स्टेप्स खुल जाएंगे।

mp-viklang-pension-yojana-2020

  • यहां पर आपको अपने जिले की जानकारी समग्र परिवार, आईडी और स्थानीय निकाय चुनाव होगा यह चुनने के बाद आपको ऑनलाइन पेंशन हेतु ऑनलाइन आवेदन करें विकल्प को चुनना होगा।
  • जैसे ही आप यह विकल्प चुनेंगे आपके सामने विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन के लिए Application Form खुल जाएगा। अब इस एप्लीकेशन को पूरी सावधानी के साथ सारी जानकारी भरे सभी जानकारी भरने के बाद जो भी डाक्यूमेंट्स आपसे मांगे गए हैं उन्हें अपलोड कर दें और इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक कर दें इस तरीके से आप के फॉर्म भरने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

MP Viklang Pension Yojana 2020 प्रदेश के विकलांगो के लिए एक राहत देने वाली योजना है। इस योजना के आ जाने से अब किसी विकलांग व्यक्ति को कम से कम किसी के सामने अपनी जरूरतों के लिए हाथ नही फैलाने पड़ेंगे।

यदि आपके घर मे या आसपास कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ पाने की स्थिति में है तो जरूर उसे इस योजना की जानकारी दें। दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कमेंट करके जरूर बताएं।

आपको यह भी पढ़ना चाहिए:

आज आपने क्या सीखा

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख (रजिस्ट्रेशन) MP Viklang Pension Yojana 2020 जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को MP Viklang Pension Yojana 2020 के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या Internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी Doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच Comments लिख सकते हैं.

यदि आपको यह लेख MP Viklang Pension Yojana 2020 पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि FacebookTwitter और दुसरे Social media sites share कीजिये.

Leave a Comment