आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 | Ayushman Bharat Golden Card 2020

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 : Ayushman Bharat Golden Card 2020

आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री जी द्वारा की गई है। जिसे राष्ट्रीय संरक्षण मिशन के अंतर्गत वर्ष 2018 में आरम्भ किया गया। इस योजना के अंतर्गत हमारे देश के निवासियों को चुनिंदा सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में 5 लाख रुपए तक निःशुल्क ईलाज की सुविधा प्रदान की जा रही है और भारत के 10 करोड़ परिवारों को प्रतिवर्ष हेल्थ कवरेज देने का निर्णय लिया गया है ।

इस खास स्कीम के तहत अब आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 भी जारी किये गए हैं। यह कार्ड उन्हीं व्यक्तियों के लिए बनाये जाएंगे , जो गरीब हैं इसलिए अपने व अपने परिवार के इलाज का खर्च उठाने के लिए असमर्थ हैं।

अब तो आयुष्मान कार्ड बनाने हेतु सरकार द्वारा ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया भी प्रारंभ कर दी गई है। आज इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं कि आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 क्या है? इसका सारा विवरण, इसके मुख्य उद्देश्य व इससे मिलने वाले लाभ, आवेदन के लिए योग्यता की जांच और जरूरी डाक्यूमेंट्स तथा इस योजना में आवेदन की प्रक्रिया के बारे में, तो पूरे आर्टिकल को शुरू से अंत तक पढ़िये।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 क्या है?

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड जिन्हें जन आरोग्य गोल्डन कार्ड भी कहा जाता है, देश के गरीब लोगों की सहायता हेतु बनाए जाते हैं, ताकि गरीब लोग अपनी बीमारी का इलाज अच्छे अस्पताल में करवा पाएं। जो व्यक्ति आयुष्मान भारत के लाभार्थी हैं उन्हीं को यह गोल्डन कार्ड मिलेंगे। जो भी व्यक्ति ये कार्ड बनवाना चाहते हैं वे अपने पास के जन सेवा केंद्र में जाकर बनवा सकते हैं। इस योजना से भारत के 10 करोड़ परिवार लाभान्वित होंगे।

इन गोल्डन कार्ड की मदद से गरीब व असहाय व्यक्ति अपने तथा अपने परिवार का इलाज फ्री करवा सकते हैं, सरकार उन्हें 5 लाख रुपए तक का फ्री स्वास्थ्य बीमा देगी। यह कार्ड सभी शहरों में और गावों में बनाये जा रहे हैं।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 के उद्देश्य।

केंद्र सरकार द्वारा आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 बनवाने का उद्देश्य हमारे देश के बीपीएल परिवारों को 5 लाख रुपए तक स्वास्थ्य बीमा प्रदान कर उनकी सहायता करना है। चूंकि कई लोग बीमारियों से ग्रस्त होंने के बावजूद आर्थिक रूप से कमजोर होने की वजह से अपने तथा अपने परिवारजनों के इलाज करा सकने में असमर्थ होते हैं, जिन्हें इस योजना से बहुत लाभ मिलेगा। इस योजना द्वारा प्रतिवर्ष देश में करीब 10 करोड़ से भी ज्यादा परिवार स्वास्थ्य बीमा प्राप्त कर रहे हैं।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 के लाभ।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 के कई लाभ हैं, जो इस प्रकार से हैं-

  • यह कार्ड सरकार द्वारा खासतौर पर गरीब लोगों की आर्थिक मदद करने के लिए बनाए जा रहे हैं।
  • यह कार्ड गोल्डन कलर के होते हैं और इन्हें सभी आवेदन करता अपने पास के जन सेवा केंद्र अथवा प्राइवेट, सरकारी अस्पताल से भी प्राप्त कर पाएंगे।
  • इन गोल्डन कार्ड द्वारा पहले 1350 बीमारियों सर्जरी, मेडिकल डे केयर ट्रीटमेंट, डायग्रोस्टिक आदि का इलाज होता था और अब तो इसमें आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक, योग एवं यूनानी इलाज आदि को भी शामिल किया गया है।
  • जो भी व्यक्ति आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 प्राप्त कर लेते हैं, उन्हें यह कार्ड बताने पर अस्पतालों में फ्री इलाज करवाया जाता है।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 के लिए योग्यता की जांच।

यदि आप भी यह कार्ड बनवाकर इसके लाभ लेना चाहते हैं तो आपको आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 की वेबसाइट पर जाकर योग्यता की जांच करनी होगी। इसके अलावा आप अपने पास के कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर भी योग्यता की जांच कर पाएंगे। वेबसाइट द्वारा ऑनलाइन अपनी योग्यता जांचने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करें।

  • पहले आयुष्मान भारत योजना की वेबसाइट https://www.pmjay.gov.in/ पर जाइये।
  • अब आपको जो पेज दिखाई दे, उस में अपना रेजिस्टर्ड मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज कीजिए। फिर जनरेट OTP नामक ऑप्शन पर क्लिक करने पर आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP प्रदर्शित होगा।
  • अब इस OTP को प्रदर्शित हो रहे खाली बॉक्स में दर्ज कीजिए।
  • अब आपको कुछ ऑप्शन जैसे की-

1 नाम से

2 मोबाइल नंबर से

3 राशन कार्ड के द्वारा

4 RSBI URN द्वारा

  • फिर आप इनमें से जिस भी तरीके से अपना नाम देखना चाहते हैं, उस पर क्लिक कीजिए और जो भी विवरण मंगा जाय, उसे भरिये।
  • इसके बाद आपको अपने नाम की खोज का परिणाम स्क्रीन पर दिख जायेगा।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 हेतु जरूरी डाक्यूमेंट्स।

जो भी व्यक्ति यह कार्ड बनवाने के इच्छुक हैं, उन्हें आवेदन के समय निम्न डाक्यूमेंट्स की आवश्यकता होगी-

  1. यह गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए आवेदक को अपने पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड की आवश्यकता होगी।
  2. आवेदक के पास न्यूनतम एक मोबाइल नंबर तो होना जरूरी है।
  3. इस योजना में गरीब परिवारों को गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराया जायेगा अतः उनको जा रहा है, अपने बीपीएल कार्ड अथवा राशन कार्ड की जरूरत भी होगी।
  4. आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 में लाभार्थियों की फोटोग्राफ भी छपी होगी, अतः आवेदक को एक पासपोर्ट साइज़ की फोटो भी देनी होगी।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 के लिए आवेदन कैसे करें?

अगर आपने आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 बनवाने के लिए हमारे द्वारा बताई सारी जानकारी ठीक से पढ़ ली है और इसके लिए योग्यता की जांच भी कर ली है, तो आप इसके लिए नीचे बताई प्रक्रिया से 2 स्थानों पर आवेदन कर सकते हैं-

जन सेवा केंद्र द्वारा

  • जो भी व्यक्ति आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 बनवाना चाहते हैं उन्हें पहले अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाना होगा और वहां पर जाकर चेक करना होगा कि उनका नाम वहां पर लाभार्थी लिस्ट में है या नहीं।
  • जिन व्यक्तियों का नाम लाभार्थी लिस्ट में होगा वही गोल्डन कार्ड बनवा पाएंगे यह कार्ड बनवाने के लिए आपको अपने सारे जरूरी कागजातों को इसी जन सेवा केंद्र में जमा करवाना होगा।
  • फिर वहां के अधिकारी आप का रजिस्ट्रेशन करेंगे और आपको एक रजिस्ट्रेशन आईडी दी जाएगी। फिर करीब
  • 10 से 15 दिनों के पश्चात आपको यह रजिस्ट्रेशन आईडी लेकर फिर से जन सेवा केंद्र में जाना होगा जहां पर आपको 30 रुपये का शुल्क जमा करवाने के पश्चात यह गोल्डन कार्ड प्राप्त हो जाएगा।

प्राइवेट या सरकारी अस्पतालों के द्वारा

जो भी लाभार्थी यह गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते हैं वह किसी भी प्राइवेट या सरकारी अस्पताल में जाकर यह कार्ड बना सकते हैं।

  • जिसके लिए उनको अपने सारे डाक्यूमेंट्स जो हमने ऊपर बताए हैं वह उस अस्पताल में जमा करवाने होंगे।
  • इसके बाद उस अस्पताल में जांच की जाएगी की आवेदन कर्ता का नाम जन आरोग्य योजना के तहत शामिल किया गया है अथवा नहीं।
  • अगर आवेदन कर्ता का नाम इस योजना के तहत रजिस्टर्ड होगा और लाभार्थी लिस्ट में जुड़ा होगा तो उनका रजिस्ट्रेशन करके उन्हें गोल्डन कार्ड प्रदान किया जाएगा।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 डाउनलोड कैसे करें?

सभी व्यक्ति यह गोल्डन कार्ड जन सेवा केंद्र व डीएम के कार्यालय से प्रिंट निकलवा सकते हैं। इसके अलावा आप जहां से भी यह गोल्डन कार्ड बनवाते हैं, वह अधिकारी अथवा एजेंट भी आपको यह कार्ड डाउनलोड करके दे सकता है।

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 डाउनलोड करने के लिए नीचे बताई प्रोसेस को फॉलो कीजिए।

  • सबसे पहले Ayushman Bharat Cloud Website पर जाइए। सीधा इस वेबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक कीजिए।

https://www.pmjay.gov.in/

  • अब होम पेज पर लॉगिन के ऑप्शन को चुनिए व ईमेल आईडी तथा पासवर्ड टाईप करके साइन इन पर क्लिक कीजिए।
  • फिर अगले पेज पर अपना आधार कार्ड नम्बर टाइप करें। फिर इसके बाद के पेज पर अंगूठे के निशान सत्यापित कीजिए।
  • इस वेरिफिकेशन के बाद अगले पेज पर कई विकल्पों में से अप्रूवड बेनिफिशियरी नामक विकल्प को चुनिए, तब आपको जिनका गोल्डन कार्ड अप्रूव हो चुका है, उनकी सूची दिखेगी।
  • इस सूची में अपना नाम ढूंढिए तथा कन्फर्म प्रिंट नामक विकल्प पर क्लिक कर दीजिए, जिससे आप जन सेवा केंद्र वेलेट पर जुड़ जाएंगे।
  • फिर crc वलेट में अपना पासवर्ड और पिन डालिये। अब आप पुनः होम पेज पर चले जायेंगे।
  • यहां आवेदक के नाम के आगे डाउनलोड कार्ड का ऑप्शन मिलेगा, इस ऑप्शन पर क्लिक करके आपको  आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 मिल जाएगा, जिसे आप आसानी से डाउनलोड कर सकेंगे।

आपको यह भी पढ़ना चाहिए :

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। इस लेख का उद्देश्य यह है कि आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2020 के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करना ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस योजना का फायदा प्राप्त कर सकें।

Leave a Comment